KavyaKosh (Hindi)

aberrance.in

चाहत (Hindi)

अपने क़िस्से कहानियाँ में तुम्हें अब सुनता नहीं, इसका मतलब ये नहीं के अब तुम्हें मैं चाहता नहीं । नहीं बताता क्या बीतती है रोज़, अपने एहसास अब नहीं जताता, हर छोटी बात पर रूठ जाया करता था कभी, लेकिन अब हर बात को दिल से नहीं लगाता। सारे गिले-शिकवे बाट लेता हूँ ख़ुद में …

चाहत (Hindi) Read More »

इश्क़ की ताबीर

इश्क़ की ताबीर (Hindi)

जस्थुजू वो नहीं जिसमें मंज़िल हो जज्बा वो नहीं जो पल भर का हो ख्वाब वो नहीं जिन्हें लिए तुम सोते हो ख्वाहिश वो नहीं जो आसानी से मिलती हो लम्हा वो खास नहीं जिसमें उल्फत ना हो फितूर वो नहीं जिस खातिर तुम फ़ना ना हो बदनसीब है वो जिनका इश्क़ समय के साथ …

इश्क़ की ताबीर (Hindi) Read More »

क्यूँ_

क्यूँ? (Hindi)

कभी तुम मुस्कुरा देते हो,कभी मुस्कुराहट छीन लेते हो, ये क्या खेल खेलते हो तुम, नीचे गिरा कर मुझे उठा लेते हो। बतलाते हो दस ख़ूबियाँ मेरी, बीस ख़ामियाँ भी वही गिना देते हो, क्या चाहा है तुम्हारी, क्यूँ मेरी नींद उड़ा देते हो। कभी समझाते हो मुझे ख़ुद, कभी खुदको नीचे गिरा देते हो, …

क्यूँ? (Hindi) Read More »