KavyaKosh (Hindi)

Chahat

चाहत (Hindi)

अपने क़िस्से कहानियाँ में तुम्हें अब सुनता नहीं, इसका मतलब ये नहीं के अब तुम्हें मैं चाहता नहीं । नहीं बताता क्या बीतती है रोज़, अपने एहसास अब नहीं जताता, हर छोटी बात पर रूठ जाया करता था कभी, लेकिन अब हर बात को दिल से नहीं लगाता। सारे गिले-शिकवे बाट लेता हूँ ख़ुद में …

चाहत (Hindi) Read More »

इश्क़ की ताबीर

इश्क़ की ताबीर (Hindi)

जस्थुजू वो नहीं जिसमें मंज़िल हो जज्बा वो नहीं जो पल भर का हो ख्वाब वो नहीं जिन्हें लिए तुम सोते हो ख्वाहिश वो नहीं जो आसानी से मिलती हो लम्हा वो खास नहीं जिसमें उल्फत ना हो फितूर वो नहीं जिस खातिर तुम फ़ना ना हो बदनसीब है वो जिनका इश्क़ समय के साथ …

इश्क़ की ताबीर (Hindi) Read More »

Izaazat

Badi sooni najaro se ek gulaab ko nihara hai Ae waqt us gulaab ke khushboo ko Ruh me basne ki izaazat de de Juda hokar jis mod pe wo noor ojhal hua Ae raat us noor ki roshni ko khojne ki izaazat de de Lafzo me bayan na hoti uski khoobsoorati ki Ae shabd tere …

Izaazat Read More »

क्यूँ_

क्यूँ?

कभी तुम मुस्कुरा देते हो,कभी मुस्कुराहट छीन लेते हो, ये क्या खेल खेलते हो तुम, नीचे गिरा कर मुझे उठा लेते हो। बतलाते हो दस ख़ूबियाँ मेरी, बीस ख़ामियाँ भी वही गिना देते हो, क्या चाहा है तुम्हारी, क्यूँ मेरी नींद उड़ा देते हो। कभी समझाते हो मुझे ख़ुद, कभी खुदको नीचे गिरा देते हो, …

क्यूँ? Read More »

Waqt

Waqt

Ek waqt hua karta tha wo.. Jab kabhi pyaar tujhe kiya krta tha Me intezaar tera roz kahi bethe kiya karta tha.. Me intezaar tera roz kahi bethe kiya karta tha.. Tere aane ke baad apni zindagi ke sabse haseen pal jiya karta tha. College me har waqt har kisi se teri baat kiya karta …

Waqt Read More »